Hon'ble Congress President Shri Rahul Gandhi addressed a massive public meeting in Gandhinagar, Gujarat

Hon'ble Congress President Shri Rahul Gandhi addressed a massive public meeting in Gandhinagar, Gujarat


ALL INDIA CONGRESS COMMITTEE

24, AKBAR ROAD, NEW DELHI

COMMUNICATION DEPARTMENT

 

Highlights of CP speech                                                                         12 March, 2019

 

Congress President Shri Rahul Gandhi addressed a massive public meeting in Gandhinagar, Gujarat.


श्री राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा – पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह जी, श्रीमती सोनिया गांधी जी, के.सी. वेणुगोपाल जी, अहमद पटेल जी, राजीव सातव जी, अमित चावड़ा जी, परेश धनानी जी, कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सभी सदस्यगण, गुजरात के सभी विधायक, वरिष्ठ नेतागण, यूथ कांग्रेस, एनएसयूआईसेवा दल, महिला कांग्रेस के सब साथीप्रेस के हमारे मित्रों, भाईयो और बहनों, आपका सबका यहाँ बहुत - बहुत स्वागत। दूर-दूर से आप सब यहाँ आए हैं, इसके लिए आप सबका बहुत - बहुत स्वागत। बहुत गर्मी है और हमारा कार्यक्रम एक-डेढ़ घंटा लेट चल रहा है, तो आपको कष्ट हुआ, इसके लिए मैं आपसे शुरुआत में ही माफी मांगना चाहता हूं।


श्री गांधी ने कहा कि सालों बाद कांग्रेस वर्किंग कमेटी की मीटिंग गुजरात में हुई है, हमने ये मीटिंग गुजरात में इसलिए की क्योंकि हिंदुस्तान में दो विचारधाराओं की लड़ाई है और दोनों विचारधारा गुजरात में आपको मिलेंगी। एक तरफ, महात्मा गांधी जी, जिन्होंने अपनी पूरी जिंदगी, जीवन का हर क्षण इस देश को बनाने में लगा दिया। आज हम उनके आश्रम में थे और अगर ये देश बना है तो महात्मा गांधी और गुजरात ने इस देश को बनाया है। आज दूसरी शक्तियाँ इस देश को कमजोर करने में लगी हैं। आप देखिए, इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जज प्रेस के पास जाते हैं, कहते हैं हमें काम नहीं करने दिया जा रहा है और उसके एकदम बाद जज लोया जी का नाम लेते हैं। आमतौर से जनता सुप्रीम कोर्ट के पास न्याय के लिए जाती है, आज के हिंदुस्तान में सुप्रीम कोर्ट के जज जनता के सामने न्याय मांगते हैं। ये सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के साथ नहीं हो रहा है, जहाँ भी आप देखें हिंदुस्तान की संस्थाओं पर आक्रमण हो रहा है। लोगों को बांटा जा रहा है, नफरत फैलाई जा रही है और जो सच्चे मुद्दे हैं, जो असली मुद्दे हैं, उनकी बात सरकार नहीं करती है। हिंदुस्तान के सामने सच्चे मुद्दे कौन से हैं? सबसे पहला और सबसे बड़ा मुद्दा है, बेरोजगारी। आज हिंदुस्तान में 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है, नरेन्द्र मोदी जी मेक इन इंडिया की बात करते हैं, स्टार्ट अप इंडिया की बात करते हैं, मगर सच्चाई ये है कि आज हिंदुस्तान का युवा अलग-अलग प्रदेशों में रोजगार ढूंढने के लिए भटक रहा है। नरेन्द्र मोदी जी की सरकार 450 युवाओं को 24 घंटे में रोजगार देती है। दूसरी तरफ किसानों का मुद्दा, गुजरात के चुनावों में हमने किसानों की बात की और किसानों ने गुजरात में हमारा पूरा समर्थन किया और किसानों के सामने कौन से मुद्दे हैं- नरेन्द्र मोदी जी तीन लाख पचास हजार करोड़ रुपए 15 लोगों का कर्जा माफ कर सकते हैं, हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों का, मगर हिंदुस्तान के किसान का कर्जा माफ नहीं कर सकते हैं, एक रुपया कर्जा माफ नहीं करते हैं। उल्टा अरुण जेटली जी कहते हैं कि किसान का कर्जा माफ करना हमारी पॉलिसी नहीं है। किसान बीमा का पैसा देते हैं और जब आँधी, तूफान आता है तो फायदा उन्हीं 15 लोगों की कंपनी को होता है। आप पैसा भरो और सीधा- सीधा पैसा उनकी जेब में जाता है।


मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में चुनाव थे, हमने रोजगार, किसान का मुद्दा उठाया, हमने वहाँ साफ कह दिया और वही बात हमने गुजरात में कही थी कि हम जो कहते हैं, करके दिखा देते हैं। हमने वहाँ कहा कि अगर नरेन्द्र मोदी जी साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए 15 लोगों का कर्जा माफ कर सकते हैं, तो कांग्रेस पार्टी भी किसानों का कर्जा माफ कर सकती है। हमने कहा कि देखिए 10 दिन के अंदर, इन तीनों प्रदेशों में चुनाव जीतने के 10 दिन के अंदर कांग्रेस पार्टी किसानों का कर्जा माफ कर देगी। प्रधानमंत्री जी ने, बीजेपी के लोगों ने कहा कि कांग्रेस पार्टी झूठ बोल रही है। भाईयो और बहनों, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में 10 दिन नहीं लगे, दो दिन के अंदर कांग्रेस पार्टी ने इन प्रदेशों के सब किसानों का कर्जा माफ कर दिया। मुझे दुख होता है कि गुजरात के किसानों का कर्जा हम माफ नहीं कर पाए, क्योंकि मैं जानता हूं कि आपको भी जरुरत है।


नरेन्द्र मोदी जी ने नोटबंदी की, बिना किसी से पूछे, रात को 8 बजे अनाउसमेंट करते हैं कि 500 रुपए का, 1,000 रुपए का नोट रद्दी हो रहा है और गुजरात की जो एंटरप्रिन्योर (Entrepreneur) स्पिरिट है, जो इनोवेटिव स्पिरिट है, गुजरात के छोटे दुकानदार, स्मॉल और मीडियम साइज बिजनेस, जो आपकी रीढ़ की हड्डी है, उस रीढ़ की हड्डी को नरेन्द्र मोदी जी ने एक दिन में तोड़ दिया। करोड़ों लोगों को बेरोजगार किया, हंसते हुए किया, कहते हैं कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा हूं। मैं आपसे पूछना चाहता हूं, गुजरात की जनता से पूछना चाहता हूं कि क्या उस भीड़ में, जो बैंक के सामने खड़ी थी, क्या उस भीड़ में आपने हिंदुस्तान के कालेधन वालों को देखा, क्या आपने अनिल अंबानी को देखा, नीरव मोदी को देखा, मेहुल चोकसी को देखानहीं, उस लाइन में हिंदुस्तान के गरीब लोग थे, हिंदुस्तान के किसान, मजदूर, माताएं, बहनें खड़ीं थी। 15 लाख रुपए वापस करने के लिए कहा था, मिल गया आपको 15 लाख रुपए? आ गए आपके बैंक अकाउंट मेंजहाँ भी जाते हैं, कोई ना कोई झूठ बोल जाते हैं। गब्बर सिंह टैक्स, कहा था कि एक टैक्स होगा, सिंपल टैक्स होगा, रात को 12 बजे अनाउंस करते हैं, पता लगता है कि 5 अलग-अलग टैक्स और आज तक गुजरात के छोटे दुकानदारों को, स्मॉल और मीडियम साइज बिजनेस वालों को जीएसटी समझ नहीं आई। मैं आप सबको आश्वासन देना चाहता हूं कि 2019 में जैसे ही कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी, वैसे ही हम जीएसटी को रिफोर्म करके आपको एक टैक्स वाली जीएसटी दे देंगे।मगर नरेन्द्र मोदी जी सच्चे मुद्दों की बात नहीं करना चाहते हैं। नरेन्द्र मोदी जी देश को ये नहीं बताना चाहते कि पिछले 5 सालों में उन्होंने रोजगार के लिए कुछ नहीं किया, नरेन्द्र मोदी जी देश के किसान को ये याद नहीं दिलाना चाहते कि उन्होंने पिछले 5 साल में किसानों की बात नहीं सुनी, किसानों का कर्जा माफ नहीं किया, किसानों की मदद नहीं की। ये भी नहीं याद दिलाना चाहते कि उन्होंने किसान से बोनस छीना, लेकिन एक के बाद एक, एक के बाद एक नई बातें करेंगे।


आपको याद होगा, 2014 के चुनाव में नरेन्द्र मोदी जी ने कहा था, मुझे प्रधानमंत्री मत बनाओ, चौकीदार बनाओ। ये देखिए, मैंने चौकीदार शब्द बोला – (जनता ने कहा चोर है), चौकीदार– (जनता ने फिर कहा चोर है), तो कुछ और बोलने की जरुरत नहीं होती, सिर्फ, चौकीदार, जवाब मिलता है- (जनता ने फिर कहा चोर है)। फिर हर स्टेज से नरेन्द्र मोदी जी देशभक्ति की बात करते हैं, हर स्टेज से नरेन्द्र मोदी जी बोलेंगे कि मैं देशभक्त हूं। राफेल हवाई जहाज, नरेन्द्र मोदी जी वायुसेना की प्रशंसा करते हैं, मगर नरेन्द्र मोदी जी देश को ये नहीं बताते हैं कि उन्हीं पायलट्स और उसी वायुसेना के जेब में से नरेन्द्र मोदी जी ने 30,000 करोड़ रुपए चोरी करके अनिल अंबानी की जेब में डाला है। डॉ. मनमोहन सिंह जी बैठे हैं, एंटनी जी बैठे हैं, यूपीए के समय एंटनी जी ने, डॉ. मनमोहन सिंह जी ने एक राफेल हवाई जहाज के लिए 526 करोड़ रुपए देने तय किए थे। मनमोहन सिंह जी ने कहा था कि HAL कंपनी, हिंदुस्तान की सरकारी कंपनी, जिसने 70 साल से हवाई जहाज बनाए, जिसके हवाई जहाज ने पाकिस्तान में जाकर बम गिराए, जिसने मिराज हवाई जहाज बनाया, उस कंपनी को राफेल का कॉन्ट्रैक्ट मिलेगा। भाईयो और बहनों, अनिल अंबानी ने जिंदगी में कभी हवाई जहाज नहीं बनाया है और मैं गारंटी करके कहता हूं अगर अनिल अंबानी को आपने एक कागज दे दिया और उन्हें कहा कि कागज का हवाई जहाज बनाओ, अनिल अंबानी कागज का हवाई जहाज भी नहीं बना पाएंगे। बैंकों का 45,000 करोड़ रुपए कर्जा है उनकी कंपनियों पर, HAL कंपनी ने अपना पैसा, 3,000 करोड़ रुपए हिंदुस्तान की सरकार को दिया है। भाईयो और बहनों, नरेन्द्र मोदी जी प्रधानमंत्री बनते हैं, फ्रांस जाते हैं और उनके साथ डेलिगेशन में अनिल अंबानी जाते हैं, फ्रांस के राष्ट्रपति कहते हैं कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री ने मुझे मीटिंग में साफ बोला कि HAL को कॉन्ट्रैक्ट नहीं मिलेगा, अनिल अंबानी को राफेल का कॉन्ट्रैक्ट देना पड़ेगा और 526 करोड़ का हवाई जहाज नहीं खरीदेंगे, 1,600 करोड़ रुपए में हवाई जहाज खरीदेंगे। फ्रांस के राष्ट्रपति ने ये बात बोली, ओलांद नाम है उनका, इंटरनेट पर जाकर देख लीजिए। सीबीआई का डॉयरेक्टर जांच करना चाहता है, डेढ़ बजे रात को नरेन्द्र मोदी जी उसको निकाल देते हैं, उसके बाद सुप्रीम कोर्ट कहता है कि सीबीआई डॉयरेक्टर को बहाल करो, वापस लाओ, खरगे जी बैठे हैं, कमेटी में हैं, घंटों में नरेन्द्र मोदी जी ने सीबीआई डॉयरेक्टर को निकाल दिया, घंटों में दूसरी बार निकाल दिया, क्योंकि सीबीआई डॉयरेक्टर राफेल पर जांच करने जा रहा था।


गुजरात की जनता, आप मुझे बताईए, नरेन्द्र मोदी जी ने आपसे वायदा किया था, देश की जनता से वायदा किया था कि वो भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ेंगे, गुजरात की जनता को नरेन्द्र मोदी जी से पूछना चाहिए, आपने एयरफोर्स के शहीदों का 30,000 करोड़ रुपए छीन कर अनिल अंबानी को क्यों दियाकिस आधार पर दियाडिफेंस मिनिस्ट्री के कागजात में, हिंदू अखबार में पढ़ लीजिए, साफ लिखा है, डिफेंस मिनिस्ट्री के लोगों ने कागजात में साफ लिखा है कि नरेन्द्र मोदी, चौकीदार ने पैरलल नेगोसिएशन फ्रांस की सरकार के साथ की। एयरफोर्स के लोगों ने, एयरफोर्स के कागजात में साफ लिखा है कि चौकीदार – (जनता ने कहा चोर है)।


देशभक्ति की बात करते हैं, पुलवामा में आतंकवादी हमला हुआ, मसूद अजहर ने बम अटैक किया और मैं यहाँ से नरेन्द्र मोदी जी से सवाल पूछना चाहता हूं कि इस मसूद अजहर को हिंदुस्तान की जेल से निकालकर पाकिस्तान किसने भेजा? बीजेपी की सरकार ने, वाजपेयी जी की सरकार ने, स्पेशल हवाई जहाज में मसूद अजहर को डाल कर, उसको पैसा देकर कंधार पहुंचाया और नरेन्द्र मोदी जी, आपके जो नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर हैं, अजीत डोभाल जी,  वो मसूद अजहर के साथ हवाई जहाज में एस्कोर्ट बनकर कंधार गए। आप देश को समझाइए कि उन 40-45 शहीदों पर जिस व्यक्ति ने हमला किया, उस व्यक्ति को आपने हिंदुस्तान से स्पेशल हवाई जहाज में बैठाकर वापस क्यों भेजा? आप देश को ये बताईए, देशभक्ति की बात करते हैं ना! तो देश को बताईए कि मसूद अजहर को आपकी सरकार ने पाकिस्तान क्यों भेजा था। मसूद अजहर को पकड़ा किसने था - कांग्रेस पार्टी ने पकड़ा था, जेल में उसको डाला था।


15 लोगों को हिंदुस्तान का पूरा धन दिया, भाईयो और बहनों देखिए, जिस दिन पाकिस्तान के खिलाफ, आतंकवाद के लड़ाई हो रही थी, अखबार पढ़ लीजिए, उसी दिन नरेन्द्र मोदी जी ने हिंदुस्तान के 5 एयरपोर्ट अपने मित्र के हवाले कर दिए। मोदी जी दो हिंदुस्तान बनाना चाहते हैं, एक हिंदुस्तान - अनिल अंबानी वाला, मेहुल चोकसी वाला, नीरव मोदी वाला, नरेन्द्र मोदी वाला, सूट-बूट वाला और दूसरा हिंदुस्तान - किसानों का, मजदूरों का, छोटे दुकानदारों का, छोटे और मिडल साइज बिजनेस वालों का, युवाओं का। उनके मित्रों के लिए लाखों करोड़ रुपए, उनके मित्रों के लिए कर्जा माफ, उनके लिए प्राइवेट हवाई जहाज, एय़रपोर्ट, आपके जमीन, जंगल, जल, जो भी उनको चाहिए वो उनके लिए और आपके लिए नोटबंदी, गब्बर सिंह टैक्स (जीएसटी), आत्महत्या, आपके बच्चों को स्कूल जाना हो, कॉलेज जाना हो, जेब से लाखों रुपए पहले निकालो और उन्हीं 15 लोगों को दो। परिवार में कोई बीमार होगा, कैंसर हो गया, सीटी स्कैन की जरुरत, एमआरआई की जरुरत, प्राइवेट अस्पताल में जाओ और उन्हीं 15-20 लोगों को पहले 15 लाख, 20 लाख रुपए दो, फिर एमआरआई कराओ, ऑपरेशन कराओ। ऐसा हिंदुस्तान हमें नहीं चाहिए और ऐसा हिंदुस्तान हम नहीं बनने देंगे, कुछ भी हो जाए।


कल मैं अखबार पढ़ रहा था, अखबार में लिखा कि इंग्लैंड की सरकार ने, हिंदुस्तान की सरकार को मैसेज भेजा कि हमें आपसे थोड़ी जानकारी चाहिए, जानकारी भेजिए और हम नीरव मोदी को पकड़ कर वापस हिंदुस्तान भेज देंगे। इंग्लैंड की सरकार कह रही है कि हिंदुस्तान की सरकार ने रिक्वेस्ट का जवाब नहीं दिया। प्रधानमंत्री जी नीरव मोदी को नीरव भाई कहते हैं, मेहुल चोकसी को मेहुल भाई कहते हैं, अनिल अंबानी को अनिल भाई कहते हैं और ये सब लोग नरेन्द्र मोदी जी की मार्केटिंग करते हैं। दिनभर इनको आप टी.वी. पर देखेंगे, पैसा कहाँ से आता है, मैं आपको बताता हूं - अनिल अंबानी, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, ललित मोदी, विजय माल्या, ऐसे लोगों से पैसा आता है और दिनभर आपका पैसा लूटा जाता है।


कांग्रेस पार्टी ने निर्णय ले लिया है, 2019 में हम ऐतिहासिक काम करने जा रहे हैं। अगर नरेन्द्र मोदी जी की सरकार साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए 15-20 बड़े अमीर लोगों का माफ कर सकती है, अगर अमीर लोगों को वो पैसा दे सकते हैं, तो कांग्रेस पार्टी हिंदुस्तान के गरीब लोगों को, किसानों को, मजदूरों को, छोटे दुकानदारों को पैसा दे सकती है। हम ऐतिहासिक काम करने जा रहे हैं और गुजरात के हर गरीब को मैं आश्वासन देना चाहता हूं कि 2019 में कांग्रेस की सरकार बनेगी और मैं आपको बता रहा हूं, गारंटी देकर कह रहा हूं, पूरे हिंदुस्तान में, हिंदुस्तान के हर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी गारंटीड मिनिमम इंकम गारंटी लागू कर देगी। मतलब मिनिमम आमदनी कांग्रेस पार्टी हिंदुस्तान के हर नागरिक के बैंक अकाउंट में सीधे पैसा डाल देगी। ऐतिहासिक काम है, यह कांग्रेस पार्टी ही कर सकती है।


कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को मैं मैसेज देना चाहता हूं, देखिए, गुजरात का चुनाव हुआ और आप लड़े। बब्बर शेर जैसे कांग्रेस के सब वर्कर, एक होकर आप लड़े। हर डिस्ट्रिक्ट में, हर ब्लॉक में कांग्रेस पार्टी लड़ी और बीजेपी के लोग बच के निकले। पता नहीं कैसे निकले, मगर बच निकले, पूरा गुजरात जानता है और कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ये काम किया।


ये विचारधारा की लड़ाई है, एक तरफ - नफरत, गोडसे। दूसरी तरफ - प्यार, महात्मा गांधी और गुजरात का इतिहास। जीत महात्मा गांधी जी की होगी, प्यार की होगी, भाईचारे की होगी, कांग्रेस पार्टी की होगी, गुजरात की होगी।


तो मैं आपको ये कहना चाहता हूं कि चुनाव में आप गुजरात के हर घर में जाओ, गांवों में, शहरों में जाओ और गुजरात की जनता को बताओ कि पिछले 5 साल से नरेन्द्र मोदी जी वायदे कर रहे हैं, मेक इन इंडिया का वायदा किया, 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी हुई, किसानों के लिए वायदे किए, एक वायदा पूरा नहीं किया। 15 लाख रुपए का वायदा किया, वो भी पूरा नहीं किया और दूसरी तरफ जो कांग्रेस पार्टी कहती है, वो करके दिखा देती है। हमने छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान में किसानों से वायदा किया, दो दिन में हमने पूरा कर दिया। जो हम कहते हैं, वो हम करके दिखा देते हैं।इस चुनाव में सच्चाई की जीत होने वाली है, नरेन्द्र मोदी जी और नफरत की हार होने वाली है।


कांग्रेस पार्टी के सब कार्यकर्ताओं को मैं दिल से धन्यवाद करता हूं कि आप हमारी विचारधारा के लिए लड़ते हो और आने वाले चुनाव में आप यहाँ पूरी की पूरी सीटें कांग्रेस पार्टी को जिता कर देंगे।

  

आप सबका दिल से बहुत-बहुत धन्यवाद। नमस्कार, जयहिंद।

    

Sd/-

(Vineet Punia)

Secretary

Communication Deptt. 

AICC